Saturday, September 24, 2022

जीरो टिलेज क्या है इसकी कीमत,सब्सिडी,रख-रखाव और इससे होने वाले लाभ – Zero tillage – सीड ड्रिल

spot_imgspot_imgspot_img
Zero tillage
Zero tillage

जीरो टिलेज (Zero tillage) मशीन फसलों की कतार मे बुआई के लिए एक उन्नत कृषि यंत्र मानी जाती है जिसकी सहायता से गेहूं,मसूर,चना,सरसों,राई आदि की फसलों की पंक्ति मे बुआई की जा सकती है | जीरो टिलेज यंत्र आसानी से अपनाई जा सकने वाली तकनीक है जिसकी सहायता से उत्पादन लागत मे कमी के साथ-साथ गेहूं,मसूर,चना,सरसों,राई आदि की बुआई बिना खेत की जुताई किए हुए किया जा सकता है | धान की फसल की कटाई के ठिक बाद उसी खेत मे बिना जुताई किए हुए फसल की बुआई की जा सकती है |

इस मशीन की खास विशेषता है की इसके माध्यम से खरपतवार रहित खेतों मे धान की कटाई के बाद उचित मात्रा मे नमी रहने पर बिना जुताई किए गेहूं,मसूर चना,सरसों ,राई आदि की फसलों की सीधी बुआई की जा सकती है | जीरो टिलेज (Zero tillage) मशीन मुख्यतः पशु चालित,पावर टिलर चालित तथा ट्रैक्टर चालित होते है | लेकिन आजकल ट्रैक्टर चालित जीरो टिलेज ही ज्यादा प्रचालन मे है | सामान्यतः यह मशीन सात फार से लेकर ग्यारह फार वाला होता है जिसका किसान अपनी जरूरतों और उपलब्ध  ट्रैक्टर की क्षमता के अनुरूप इसका चुनाव कर सकते है |


जीरो टिलेज क्या है [ What is zero tillage ]

जीरो टिलेज (Zero tillage) यंत्र आसानी से अपनाई जा सकने वाली तकनीक है जिसकी सहायता से उत्पादन लागत मे कमी के साथ-साथ गेहूं,मसूर,चना,सरसों,राई आदि की बुआई बिना खेत की जुताई किए हुए किया जा सकता है | धान की फसल की कटाई के ठिक बाद उसी खेत मे बिना जुताई किए हुए फसल की बुआई की जा सकती है | इस मशीन की मदद से उर्वरक तथा बीज एक साथ प्रयोग मे लाए जा सकते है |  मशीन एक निश्चित गहराई मे मिट्टी के नीचे खाद तथा बीज को लाइन में बनाए गए कूड़ों में गिरता है जिससे बीज की बुआई होती है |

इस मशीन का फार आगे से नुकीले होते है जिससे मशीन के चलने पर जमीन की मिट्टी कम से कम विस्थापित तथा परिचालित होते है | जीरो टिलेज मशीन को करीब 35 से 45 अश्वशक्ति वाले ट्रैक्टर से आसानी से चलाया जा सकता है | इस  मशीन से करीब एक घंटे मे एक एकङ खेत की बुआई की जा सकती है | जीरो टिलेज मशीन आमतौर पर प्रयोग मे लाए जाने वाली सीड ड्रिल जैसी होती है |

>>>  पावर टिलर से करें खेतीबाड़ी के अनेकों काम


Zero tillage price
Zero tillage से बुआई करते हुए किसान

जीरो टिलेज से लाभ [ Benefit from zero tillage ]

  • मशीन बीज के नजदीक ही उसी गहराई तक खाद गिरता है जिससे खाद का पौधे द्वारा अधिक से अधिक उपयोग होता है जिससे उपज मे वृद्धि होती है |
  • पारंपरिक तौर पर गेहूं की बुआई के लिए करीब 3 से 5 बार जुताई की जरुरत होती है लेकिन इससे कुछ ज्यादा लाभ प्राप्त नहीं होता है | इस स्थिति मे जीरो टिलेज अच्छा साबित होता है |
  • इस मशीन की मदद से करीब एक घंटे मे एक एकङ खेत की बुआई की जा सकती है | जबकि सामान्य स्थिति बुआई करने पर लगभग 2 से 4 घंटा लगता है |
  • इससे बीज तथा खाद समुचित गहराई तथा समुचित दुरी पर गिरती है जिससे फसले तो अच्छी होती है तथा साथ ही साथ खाद और बीज उचित मात्र मे पङती है |
  • इस विधि से गेहूं,मसूर,चना,सरसों,राई आदि की बुआई करने से कम लागत में बेहतर उत्पादन प्राप्त होता है |
  • इस मशीन की मदद से बिना जुताई खेत में सीधे गेहूं की बुआई की जा सकती है | जिससे मजदूरी, समय और पैसे तीनों की बचत होती है |

✔   बिना मिट्टी के सब्जी व फलों उगाए | हाइड्रोपोनिक्स खेती कैसे होती है |


जीरो टिलेज कि कीमत [ Zero tillage price ]

जीरो टिलेज (Zero tillage) मशीन की कीमत करीब 30 हजार से 1 लाख  रुपया तक की होती है और इसकी कीमत कंपनी के ऊपर भी निर्भर करती है अलग-अलग कंपनी की कीमत अलग-अलग होती है | ये आप पर निर्भर करता है की आप कौन सी कंपनी का जीरो टिलेज खरीद रहे है | इसमे भी कई प्रकार के जीरो टिलेज मशीन आते है जिसकी कीमत भी अलग होती है |


Zero tillage price

जीरो टिलेज से बुआई करते समय इन बातों का रखे खास ध्यान [ रख-रखाव ]

  • मशीन को उपयोग मे लाने से पहले सभी कल पुर्जों की जांच कर ले की सभी कल पुर्जे सही दंग से काम कर रहे है नहीं |
  • बीज दर और खाद दर की लिवर को चेक कर ले की सही दंग से काम कर रहा है की नहीं |
  • इस बात का हमेशा ध्यान रखे ड्राइवर व्हील बिना घूमे हुए न चले ऐसा होने पर बीज तथा खाद कुंढ़ मे नही गिरेगे |
  • कभी-कभी बुआई करते समय मिट्टी से पाइप का मुहँ बंद हो जाता है तब इस स्थिति मे मिट्टी को निकालकर ही कार्य को आगे बढ़ाये |
  • कुंढ़ की गहराई हमेशा आवश्यकतानुसार ही रखे |
  • नमी वाले खेतों मे बुआई के बाद पाटा न दे |
  • धान की डंठल खेत मे लगा रहने दे इससे चिङीयों के द्वारा बीज चुग़ने की संभवना कम हो जाती है |
  • बुआई हो जाने के तुरंत बाद फर्टिलाइजर बॉक्स को अच्छी तरह से धो कर साफ कर ले जिससे रोलर जाम होने ही समस्या नहीं आती है |

✔   ब्रश कटर मशीन क्या है इसकी कीमत,उपयोग इससे होने वाले लाभ


जीरो टिलेज पर सब्सिडी [ Subsidy on zero tillage ]

किसानों को समय-समय पर राज्यों के द्वारा जीरो टिलेज (Zero tillage) पर सब्सिडी प्रदान की जाती है | सब्सिडी की दर सभी राज्यों में अलग अलग होती है | आमतौर सरकारी सब्सिडी का लाभ लघु और सीमांत किसानों को दिया जाता है |

सब्सिडी की और अधिक जानकारी के लिए DBT (Department of Agriculture कृषि विभाग) की वेबसाईट को चेक करे | 


निष्‍कर्ष [ Conclusions ]

इससे यही निष्कर्ष निकलता है कि जीरो टिलेज (Zero tillage) किसान भाइयों के लिए बहुत ही उपयोगी यंत्र है | इससे मजदूरी, समय और पैसे आदि की भी बचत होती है|इसकी सहायता से उत्पादन लागत मे कमी के साथ-साथ गेहूं,मसूर,चना,सरसों,राई आदि की बुआई बिना खेत की जुताई किए हुए किया जा सकता है | यह मशीन एक निश्चित गहराई मे मिट्टी के नीचे खाद तथा बीज को लाइन में बनाए गए कूड़ों में गिरता है जिससे बीज की बुआई होती है | मशीन बीज के नजदीक ही उसी गहराई तक खाद गिरता है जिससे खाद का पौधे द्वारा अधिक से अधिक उपयोग होता है जिससे उपज मे वृद्धि होती है |


ये भी पढे :-

✔  लेमन ग्रास की खेती कैसे करे ? इसके फायदे

✔   पॉलीहाउस उत्पादन,उपयोगिता,सब्सिडी की सम्पूर्ण जानकारी

Related Articles

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

6,000FansLike
5,000SubscribersSubscribe

Categories

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !! Do\'nt Copy !!