Saturday, November 26, 2022

कैसे शुरू करे बकरी पालन – इसमे होने वाली लाभ,बीमारिया,लोन | Goat Farming क्या है |

spot_imgspot_imgspot_img
Goat Farming
Goat Farming

बकरी पालन (Goat Farming) हमारे यहा खेती-बाड़ी के साथ-साथ पशुओ को पालने का कार्य प्राचीन काल से ही चलता आ रहा है | जिससे की खेती-बाड़ी के साथ पशुपालन भी आसानी से कर पाते है | और पशुओ को पालने से हमे अनेक प्रकार के फायदे होते है | इनके गोबर से बने जैविक खाद हमारे फसलों की उपज को बढ़ता है और हमारी जमीन की उर्वरता शक्ति को भी बढ़ती है |

बकरी पालन की शुरुआत बहुत ही कम पैसे से भी शुरू कर सकते है | शुरू- शुरू मे तो आप एक -दो बकरी से भी शुरुआत कर सकते है | और धीरे-धीरे जैसे ही इसमे मुनाफा आने लगे तो आप इसे बङे पैमाने पर शुरू कर सकते है | बकरी पालन को कोई भी व्यक्ति अपनी क्षमता के अनुसार छोटे-बङे पैमाने पर शुरू कर सकता है |


बकरी पालन क्या है [ What is Goat Farming ]

बकरी पालन मे बकरीयों को छोटे या बङे पैमाने पर पालते है जिससे की मांस, दूध एवं कार्बनिक खाद और अन्य उपयोगी सामग्री की प्राप्ति होती है | बकरी पालन प्रायः सभी जलवायु मे कर सकते है | इसमे साधारण आवास, सामान्य रख-रखाव,सधारण भोजन तथा पालन-पोषण के साथ बकरी पालन करना संभव है। इसकी उत्पाद की बिक्री के लिए सभी जगह बाजार स्थित होता है | बकरी को “गरीब की गाय” भी कहा जाता है | क्योंकि बकरी पालन को छोटे स्तर पर करने के लिये ज्यादा पैसों की जरूरत नहीं होती  है| और इसे बेचना भी होता है तो आसानी से बिक जाता है | बकरी पालन बहुत ही कम समय मे यानि की 12-15  महीने मे आपकी पूंजी वापस आने लगती है | कम पूंजी ,थोङी सी जमीन की आवश्यकता होने के कारण भूमिहीन मजदूर/किसान और सीमांत किसान के लिए यह एक बहुत ही अच्छा व्यवसाय है | इस व्यवसाय के सहज तथा हल्का होने के कारण महिलाये भी इसे आसानी से कर सकते है | और अपनी परिवार की आय मे सुधार लाने मे सहयोग कर सकती है |


कैसे शुरू करे बकरी पालन [ How to start Goat Farming  ]

बकरी पालन की शुरुआत करने के लिए ज्यादा चीजों की आवश्यकता नहीं होती है | इसमे साधारण आवास, सामान्य रख-रखाव,सधारण भोजन तथा पालन-पोषण के साथ बकरी पालन करना संभव है। बकरी पालन मे कम पूंजी ,थोङी सी जमीन की आवश्यकता होने के कारण भूमिहीन मजदूर/किसान और सीमांत किसान के लिए यह एक बहुत ही अच्छा व्यवसाय है | इस व्यवसाय के सहज तथा हल्का होने के कारण महिलाये भी इसे आसानी से कर सकते है | बकरी पालन पर सरकारी स्तर पर भी कई प्रकार के अनुदान  तथा प्ररशिक्षण (Training) की भी व्यवस्था की गई जिसे लेकर आप आसानी से बकरी पालन शुरू कर सकते है |


ये भी पढे :-


बकरी पालन के लिए बाङे का निर्माण

व्यावसायिक बकरी पालन शुरू करने के लिए आपको बकरियों को रहने के लिए बाङे की आवश्यकता होती है | आमतौर पर 10 बकरी को पालने के लिए बाङे की चौराई 15-20 फिट तथा उचाई 10-15  फिट  होनी चाहिये| बकरी की सख्या के अनुसार इसकी लंबाई घटाई-बढ़ाई जा सकती है | प्रति बकरी के लिए 12 वर्गफिट  जगह की जरूरत होती है | बकरा के रहने के लिए  7 x 5 फिट की जगह की जरूरत होती है | जबकि गाभिन बकरी के लिए 5 x 5 फिट जगह की जरूरत होती है |


How to start Goat Farming

 भारतीय बकरियों के नस्ल [ Breed of goats ]

  • पश्मीना
  • जमुनापारी
  •  सूरती
  • जखराना
  • बरबरी
  • बीटल
  • कश्मीरी
  • चाँगथाँग
  • गद्दी
  • चेगू
  • ब्लेक बंगाल
  • उस्मानाबादी
  • मारवाडी
  • मेहसाना
  • संगमनेरी
  • कच्छी
  • सिरोही
  • अंगोरा
  • न्युबियन
  • अल्पाइन

बकरियों का आहार [ Goats diet ]

हरा चारा : – बकरियों के चारे मे हरे चारे का बहुत विशेष महत्व है | इसमे पोषक तत्व,खनिज लवण और विटामिन भरपूर मात्रा मे होता है | हारा चारा आप अनेक स्त्रोत से प्राप्त कर सकते है | जैसे – जंगली घास, पेङे-पौधे,पतिया,सब्जी के पत्ते,बरसीम,रिजका,लीबिया,मक्का,ज्वार,आदि

सुखा चारा :- बबूल की सुखी पतिया, अरहर ,चना, मटर का भूसा,मूंग और उरद की सुखी पतिया, बरसींम या रिजका का सुखा चारा,गेहू का भूसा आदि


बकरी पालन के फायदे [ Benefits of goat farming ]

  • बकरी पालन के लिए ज्यादा लागत की आवश्यकता नहीं होती है इसे साधारण आवास, सामान्य रख-रखाव,सधारण भोजन तथा पालन-पोषण के साथ बकरी पालन करना संभव है।
  • बकरी पालन मे कम पूंजी ,थोङी सी जमीन की आवश्यकता होने के कारण भूमिहीन मजदूर/किसान और सीमांत किसान के लिए यह एक बहुत ही अच्छा व्यवसाय है | इसमे ज्यादा जमीन की जरूरत नहीं होती है |
  •  इस व्यवसाय के सहज तथा हल्का होने के कारण महिलाये भी इसे आसानी से कर सकते है |
  • इसमे ज्यादा जमीन की जरूरत नहीं होती है | प्रति बकरी के लिए 12 वर्गफिट जगह की जरूरत होती है |
  •  सरकारी स्तर पर बकरी पालन पर कई प्रकार के अनुदान  तथा प्ररशिक्षण (Training) की भी व्यवस्था की गई |
  • जरूरत के समय मे बकरियों को बेच कर आसानी से पैसे मिल जाते है |
  • बकरी पालन करने के लिए आपको पढा लिखा होना जरूरी नहीं इसे कोई भी व्यक्ति आसानी से कर सकता है |

बकरी पालन पर लोन [ Loan on goat farming ]

बकरी पालन करने के लिए सरकार के माध्यम से लोन भी दिया जाता है इस लोन का उपयोग करके आप बकरी पालन कर सकते है | बकरी पालन पर लोन लेने के लिए आप अपने नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र पर जाकर लोन के बारे मे जानकारी ले सकते है तथा वाहा से इसके प्ररशिक्षण (Training) की भी जानकारी ले सकते है | चाहे तो आप अपनी नजदीकी बैंक शाखा मे जाकर भी इसका आवेदन कर सकते है |


निष्‍कर्ष [ Conclusions ]

बकरी पालन भूमिहीन मजदूर/किसान और सीमांत किसान आसानी से कर सकते है इसे बहुत कम लागत से शुरू करके बहुत अच्छा मुनाफा कमा सकते है | इसमे ज्यादा कुछ की आवश्यकता नहीं होती है साधारण आवास, सामान्य रख-रखाव,सधारण भोजन तथा पालन-पोषण के साथ बकरी पालन करना संभव है। इसमें कम लागत मे अधिक मुनाफा कमा सकते है |


ये भी पढे :-

 

Related Articles

10 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

6,000FansLike
5,000SubscribersSubscribe

Categories

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !! Do\'nt Copy !!