Wednesday, May 25, 2022

कैसे शुरू करे मछली पालन | तलाब का निर्माण कैसे करे और इसके फायदे | Fish Farming क्या है सम्पूर्ण जानकारी

spot_imgspot_imgspot_img
Fish Farming
Fish Farming

हमारे देश मे दिन प्रति दिन मछली की मांग बढ़ती जा रही है इसलिए मछली पालन (Fish Farming) को लेकर हमारी सरकार के माध्यम से कई प्रकार के योजना चलाई जा रही है जिसका लाभ लेकर आप आसानी से मछली पालन कर सकते है | मछली की मांग को देखते हुए हमारे देश मे मछली पालन की व्यवसाय तेजी से बढ़ रही है | किसान खेती-बाड़ी के साथ-साथ मछली पालन भी कर सकता है | मछली पालन का कार्य आप अपने तलाब या तो फिर किराये पर तलाब लेकर मछली पालन कर सकते है | किसानों को दोनों ही स्थीति मे सरकार के माध्यम से लोन दिया जाता है जिसका लाभ लेकर आप मछली पालन कर सकते है |


तलाब का निर्माण कैसे करे [ How to build a pond ]

मछली पालन के लिए तलाब के निर्माण करते समय निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए |

  • तालाब निर्माण के लिए रेतीली भूमि तथा बलुई भूमि अच्छी नहीं मानी जाती है | तलाब निर्माण के लिए चिकनी,बलुई तथा रेतीली मिट्टी का मिश्रण होना चाहिए |
  • तालाब का निर्माण करते समय आपको ध्यान देना चाहिए की आप निचली जगह का चुनाव कर रहे है जिससे की भूमि जल सतह तलाब की सतह के नजदीक हो इससे तालाब मे पानी अधिक दिनों तक टिकेगा | और तालाब का निर्माण करने मे भी कम खर्च आएगा |
  • तालाब का निर्माण करते समय तालाब के तलहटी समतल तथा एक तरफ हल्का ढलान होना चाहिए | इससे क्या होगा की जब हम मछलियों तथा जल की निकाशी करने मे आसानी होगा |
  • तालाब का निर्माण करते समय इस बात का ध्यान देना चाहिए की जब आप तालाब की बांध बनाते है तब मिट्टी की परत दर परत पानी का छीरकाव करके मिट्टी को अच्छी तरह से दबाना चाहिए | इससे बांध से पानी का रिसाव नहीं होगा |
  • तालाब का निर्माण करते समय तालाब का बांध इतना चौरा होना चाहिए जिससे की उसका कटाव नहीं हो सके और गाङी से समान तथा मछलियों को ले जाने तथा ले आने मे आसानी हो सके |
  • तालाब के बगल मे जल का स्थाई स्त्रोत होना चाहिए जिससे की जब तालाब मे पानी कम हो तो आप तालाब मे आवश्यकता के अनुसार पानी डाल सके |
  • बरसात के मौसम मे तालाब से जल निकालने के लिए बाँड के मध्य ऊपरी भाग मे सीमेंट या पीवीसी लगाना चाहिए | इन पाइपों मे महीन जाली लगा देना चाहिए जिससे की मछलिया अंदर बाहर नहीं आ जा सके |

कैसे शुरू करे मछली पालन [ How to start fish farming ]

मछली पालन शुरू करने के लिए आपको तालाब,मछली की नस्ल का चुनाव करना,मछलियों के खाने का इंतज़ाम,मछलियों की देखभाल आदि की आवश्यकता होती है | इन सभी के बारे मे इस आर्टिकल मे विस्तार से बात करेगे |


ये भी पढे :-

 


मछली पालन के तालाब की तैयारी 

मछली पालन शुरू करने से पहले तालाब की जल की गहराई 1.5-3.0 मीटर जल की गहराई होनी चाहिए | ऐसे तालब जिनके जल का रंग बहुत ज्यादा काला,हरा अथवा लाल और जलकुंभी या अन्य वनस्पतियों से घिरा हो मछली पालन के लिए अच्छी नहीं होती है | अप्रैल-मई के महीने मे इन तालाबों से जल को निकालकर तलहटी की मिट्टी को काट कर निकल देंना चाहिए | जिन पुराने तालाबों से मिट्टी निकालना संभव नहीं है उनकी तलहटी की मिट्टी को किसी औजार के माध्यम से पलट देना चाहिए | तालाब मे अतिअधिक वनस्पति होने से तालाब मे ऑक्सीजीन की कमी हो जाती है | तालाब की जल को हमेशा साफ तथा स्वच्छ रखना चाहिए जिससे की आपकी मछलियों को किसी भी प्रकार की बीमारी न हो और ऑक्सीजीन की भी कमी न सके |


मछली की नस्ल [ Fish breed ]

मछली पालन शुरू करने के लिए आपको आपके सुविधा से अनुसार मछली की नस्ल का चुनाव करना चाहिए |

  • कतला
  • रोहू
  • नैनी/मृगल
  • सिल्वर कार्प
  • ग्रास कार्प
  • कॉमन कार्प
  • देशी मंगुर
  • सिंघी

How to start fish farming
मछली पालन के लिए तालाब

मछलियों का आहार [ Fish diet ]

मछली पालन (Fish Farming) मे मछलियों का आहार बहुत ही उपयोगी होता है क्योंकि मछलियों का ग्रोथ मछलियों के आहार पर ही निर्भर करता है | मछलियों का प्राकृतिक आहार तो तालब मे ही होता है जैसे – अर्ध सङी-गली वनस्पतिया,जन्तु अवशेष,जन्तु प्लवक,कोमल जलिये घास आदि इन सभी प्राकृतिक आहार को तो मछलिया खाती ही है तथा अगर आप साथ मे पूरक आहार के रूप मे सरसों की खल्ली,राइसब्रान,सोयाबीन की खल्ली आदि मछलियों के आहार के रूप मे दे सकते है | जिससे की आपकी मछलियों का ग्रोथ अधिक होगा |


मछलियों की देख भाल [ Fish care ]

मछली पालन (Fish Farming) मे मछलियों का देख भाल करना बहुत ही जरूरी है | समय-समय पर मछलियों के स्वास्थ्य की जांच करते रहना चाहिए आपको प्रत्येक महीने तालाब मे जाल डालकर मछलियों को बाहर निकालकर उनके स्वास्थ्य तथा बृद्धि की जांच करनी चाहिए | अगर किसी रोग के लक्षण का दिखाई दे तो तुरंट उनके इलाज का इंतजाम करना चाहिए | मछली पालन (Fish Farming) मे जल का समय-समय पर पी एच मान की जांच करते रहना चाहिए | अगर जल का पी एच मान सात से कम होने पर चुने का छीरकाव करना चाहिए | मछली पालन (Fish Farming) मे जल का रंग हल्का हरा भूरा सबसे ज्यादा लाभदायक होता है | मछली पालन मे आपको इन बातों का खास ख्याल रखना चाहिए |


मछली पालन पर लोन [ Loans on Fish Farming ] 

मछली पालन (Fish Farming) पर सरकार के माध्यम से कई प्रकार का योजनाओ का शुरुआत की गई है जिसमे की आपको सरकार के माध्यम से अगर आप तालाब का निर्माण करते है तब आपको तालाब का निर्माण करने के लिए  सब्सिडी भी दी जाती है जिसका लाभ लेकर आप तालाब का निर्माण कर सकते है | और सरकार के माध्यम से मछली पालन करने के लिए लोन की भी व्यवस्था की गई है | जिसका लाभ लेकर आप आसानी से मछली पालन कर सकते है |


मछली पालन से फायदे [ Benefits of Fish Farming ]

  • खेती-बाड़ी के साथ-साथ मछली पालन भी आसानी से कर सकते है | इसके लिए आपको कुछ समय देना होता है |
  • मछलियों को बेचने के लिए खास प्रकार की बाजार की भी आवश्यकता नहीं होती है इस आप लोकल मार्केट मे भी बेच सकते है |
  • मछलियों के चारे के लिए भी आपको कुछ ज्यादा खर्च नहीं करना परता अगर आप किसान है तो आपके पास सरसों की खल्ली,राइसब्रान,सोयाबीन की खल्ली आदि होती ही है इसे आप खिलाकर मछली पालन कर सकते है |
  • मछली पालन को आप कम लागत से भी शुरू कर सकते है जितनी आपकी क्षमता है उसके अनुसार ही आप मछली पालन मे अपने पैसे का निवेश कर सकते है |
  • सरकारी स्तर पर मछली पालन पर कई प्रकार के अनुदान  तथा प्ररशिक्षण (Training) की भी व्यवस्था की गई | जिसका लाभ लेकर आप मछली पालन मे अच्छा कर सकते है |

निष्‍कर्ष [ Conclusions ]

मछली पालन (Fish Farming) किसान भइयों के लिए बहुत ही एक अच्छा व्यवसाय है जिसका लाभ आप खेती किसानी करते हुए भी इस व्यवसाय को कर सकते है इसमे ज्यादा लागत की भी जरूरत नहीं होती है | मछली पालन करने के लिए आपको ज्यादा पढे लिखे होने की भी जरूरत नहीं होती है बस आपको समय-समय पर आपनी तालाब का निरक्षण करते रहना चाहिए |


ये भी पढे :-

Related Articles

Stay Connected

6,000FansLike
5,000SubscribersSubscribe

Categories

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !! Do\'nt Copy !!